रेडियोखगोलिकी में तीव्र रेडियो प्रस्फोट (fast radio burst) या ऍफ़॰आर॰बी॰ (FRB) अज्ञात कारणों से उत्पन्न एक बहुत अधिक ऊर्जावान खगोलभौतिक परिघटना होती है जिसमें बहुत-ही संकुचित समय के लिए एक रेडियो संकेत प्रकट होती है। यह औसतन कुछ मिलिसैकण्ड के लिए ही जारी रहते हैं और हमारी गैलेक्सी से बाहर ही उत्पन्न होते हैं। सर्वप्रथम तीव्र रेडियो प्रस्फोट सन् २००७ में डन्कन लोरीमर और डेविड नारकेविक द्वारा पल्सरों से मिलने वाले संकेतों के अध्ययन में पाया गया था, जिस वजह से इसे “लोरीमर प्रस्फोट” (Lorimer Burst) कहा जाता है। उसके बाद से कई तीव्र रेडियो प्रस्फोट मिल चुके हैं, जिनमें से एक स्वयं को दोहराता भी है।

Subscribe Our channel

चीनी खगोलविदों को अंतरिक्ष की गहराई से रहस्‍यमयी संकेत मिल रहे हैं। दरअसल, चीनी खगोलविदों ने Fast Radio Bursts (FRB) जैसी सिग्‍नल मिलने की बात कही है, जिसके लिए माना जा रहा है कि यह पृथ्‍वी से 3 बिलियन दूर से आ रही है।

Study with Us

चीनी विज्ञान अकादमी के राष्ट्रीय खगोलीय वेधशालाओं (NAOC) के शोधकर्ता के अनुसार, वैज्ञानिकों ने 500 मीटर अर्पचर स्‍फेरिकल रेडिया टेलीस्‍कोप (FAST) के जरिए इन संकेतों का परीक्षण किया। साथ ही, वे बड़ी सतर्कता से इसे परख रहे हैं।

यूनिवर्स में FRBs सबसे चमकीले धमाकों के तौर पर जाना जाता है। इन्‍हें तेज इसलिए कहा जाता है, क्‍योंकि यह काफी कम समय के लिए होते हैं दूसरे शब्‍दों में मिलीसेकेंड्स जितने। हालांकि, इनकी उत्‍पत्ति के लिए उचित कारण नहीं पता। शोधकर्ताओं ने बताया, ‘बार-बार ऐसे आवाज की खोज से FRBs की उत्‍पत्‍ति व भौतिक कारणों का पता चलेगा।

चीनी वैज्ञानिकों ने अत्‍यधिक संवेदनशील FRB (फास्‍ट रेडियो बर्स्‍ट) इन्स्टॉल किया है। विशालकाय टेलीस्‍केप पर 19 बीम रिसीवर पर है और इसका इस्‍तेमाल FRB121102 के FRB सोर्स का पता लगाने के लिए किया जाता है। 2015 में आरेसिबो ऑब्‍जर्वेटरी द्वारा पहली बार खोजा गया था।

अगस्‍त के अंतिम दिनों से शुरुआती सितंबर तक FRB121102 से मिलने वाले 100 से अधिक Bursts दर्ज किए गए जो अब तक सबसे अधिक हैं।

चीन में इसे FAST निकनेम दिया गया, क्‍योंकि तियानयान एक रेडियो टेलीस्‍केप है जो दावूदांग बेसिन में मौजूद है। इसमें 500 मीटर डायमीटर वाला डिश है। यह दुनिया का सबसे बड़ा filled-aperture रेडियो टेलीस्‍कोप और दूसरा सबसे बड़ा सिंगल डिश अपर्चर है।